एंटरटेनमेंट

कैप्टन ऑफ शिप जब ऐसा हो तो रिजल्ट यही आता है: अमनजोत सिंह

एक्सक्लूसिव इंटरव्यू: अमनजोत सिंह ने खोले गुरू और 'एनिमल' के सीक्रेट्स

  • अब तक 800 करोड़ से ज्यादा की कमाई कर चुकी है एनिमल
  • फिल्म में गुरु का किरदार निभाने वाले अमनजोत सिंह से बातचीत के कुछ अंश

पुलकित शर्मा जयपुर। संदीप (Sandeep Reddy Vanga) से मिलकर और बात करके ऐसा लगा कि ये जो भी बनाएंगे जबरदस्त ही बनाएंगे। कैप्टन ऑफ शिप जब ऐसा होता है तो रिजल्ट ये ही आना होता है। ये कहना है रनबीर कपूर स्टारर ब्लॉकबस्टर मूवी एनिमल के एक्टर अमनजोत सिंह का। अमन ने फिल्म में गुरु सिंह का किरदार निभाया था, जो रनबीर (Ranbir Kapoor) के कजिन बने हैं। एक दिसंबर को रिलीज हुई रनबीर कपूर, रश्मिका मंदाना और बॉबी देओल स्टारर एनिमल मूवी दर्शकों का काफी पसंद आ रही है।

Animal Movie Collection: फिल्म ने वल्र्डवाइड 800 करोड़ रुपए से ज्यादा की कमाई कर ली है। फिल्म में अनिल कपूर जैसे बड़े नाम होने के बावजूद अमन जैसे कुछ ऐसे कलाकार भी थे, जिनके काम को भी लोग सराह रहे हैं। हमने जब अमन से बात की तो उन्होंने फिल्म और उनके जीवन से जुड़े अनछुए पहलुओं को भी हमारे सामने रखा।

अमनजोत सिंह ले गए हमें ‘एनिमल’ के सेट पर! देखें मेकिंग का रोमांच 

बिजनेस के दौरान भी देखा फिल्मों में आने का सपना: अमनजोत सिंह

अमन (Amanjot Singh) ने बताया कि वे अमृतसर के रहने वाले हैं और बिजनेसमैन फैमिली से ताल्लुक रखते हैं। उनकी फैमिली पिछले 30-40 सालों से ज्वैलरी एक्पोर्ट करने का काम कर रही है।

उन्होंने अमृतसर से बीसीए किया और उनसे बाद डायमंड कटिंग का कोर्स किया। उनका परिवार अमृतसर में ज्वैलरी मैनुफैक्चिंग करता है, जिसे वे महाराष्ट्र में भी बेचते हैं। उन्होंने भी पिता के साथ कुछ समय ज्वैलरी का बिजनेस किया। बिजनेस के सिलसिले में जब भी वे मुंबई जाते थे तो किसी फिल्म के बड़े हॉर्डिंग्स को देखकर सोचते थे कि एक दिन उनका भी होर्डिंग ऐसे ही लगा होगा। वे कहते हैं कि बचपन से ही उन्हें खुद की फोटो क्लिक करने का शौक रहा है। उनके फेसकट और फिजिक के कारण लोग भी इसके लिए एप्रीशिएट करते थे।

इसी क्रम में उन्होंने कुछ पंजाबी फिल्में और म्यूजिक वीडियो में भी काम कर लिया था। इन्हीं को देखकर टी-सीरीज की टीम ने उन्हें कॉल किया। इसके बाद संदीप रेड्डी वांगा से मुलाकात करवाई गई। संदीप जब उन्हें रोल और स्टोरी के बारे में बता रहे थे तो उन्हें लगने लगा था कि वे जो बनाने जा रहे हैं वह जबरदस्त बनाएंगे। इसके बाद फिल्म की एक साल की शूटिंग कैसे पूरी हुई, पता ही नहीं चला।

मेरे लिए गुल्लू से गुरु तक की जर्नी है एनिमल: अमनजोत सिंह

अमनजोत सिंह, From Ranbir Kapoor Animal Movie, Director Sandeep Reddy Vanga, Actress Rashmika Mandanna, Amanjot Singh As Guru in Animal Movie

अमन आगे बताते हैं कि बचपन में जैसे सभी के नाम होते हैं, उनका भी था। उनकी बड़ी बहन उन्हें अमू और मम्मी गुल्लू कहकर पुकारती हैं। पंजाबी फिल्मों और म्यूजिक वीडियोज में काम कर लेने के बावजूद उन्हें विश्वास नहीं था कि वे इतनी जल्दी इतनी बड़ी फिल्म का हिस्सा बन जाएंगे। कॉन्ट्रेक्ट साइन होने के कुछ दिन तो यकीन ही नहीं हुआ था कि वे इतनी जबरदस्त फिल्म का एक अहम हिस्सा बनने वाले हैं। वे कहते हैं कि उनके लिए एनिमल गुल्लू से गुरु सिंह तक की जर्नी है।

फिल्म को लोगों द्वारा मिले प्यार का ही नतीजा है कि यह 800 करोड़ से ज्यादा का बिजनेस कर चुकी है। वे आगे जोड़ते हैं कि संदीप ऐसे डायरेक्टर हैं, जिसमें ये इगो नहीं है कि वह ये कहे कि तुम्हें ये सीन ऐसे करना है या वैसे। वे हमेशा हमसे पूछते थे कि बताओ इस शॉट या सीन में और अच्छा क्या हो सकता है? या इस सीन को और कैसे किया जाए। इसी कारण सभी एक्टर फ्री होकर अपना काम कर पाए और कब शूटिंग का तकरीबन एक साल गुजरा पता ही नहीं चल पाया।

रनबीर बहुत विनम्र और रश्मिका सच में हैं स्वीट: अमनजोत सिंह

फिल्म की एक्ट्रेस रश्मिका और तृत्पि डीमरी के बारे में बात करते हुए अमन ने बताया कि तृप्ति के साथ उनके ज्यादा शॉट्स नहीं हो पाने के कारण वे उनके बारे में ज्यादा नहीं जान पाए, लेकिन रश्मिका मंदाना उतनी ही स्वीट और प्यारी हैं, जितनी वे मीम्स आदि में दिखती हैं।

अमनजोत सिंह, From Ranbir Kapoor Animal Movie, Director Sandeep Reddy Vanga, Actress Rashmika Mandanna, Amanjot Singh As Guru in Animal Movie, Behind the Scene, Amanjot Singh With Ranbir Kapoor at Animal Movie Set during Shooting,
कैप्टन ऑफ शिप जब ऐसा हो तो रिजल्ट यही आता है: अमनजोत सिंह 8

उनसे मिलकर, बातें करके पता चला कि क्यों लोगों ने उन्हें नेशनल क्रश का खिताब दिया हुआ है। रश्मिका जैसी सच में हैं, वे ठीक वैसी ही रील लाइफ में भी हैं। वहीं, रनबीर के बारे में वे कहते हैं कि उन्हें लगता था कि इतना बड़ा नाम और स्टार होने पर उनमें घमंड भी होगा, लेकिन वे ठीक इसके विपरित थे। रनबीर बेहद विनम्र स्वभाव के व्यक्ति हैं। उनसे मिलकर ऐसा लगा कि वे तो ठीक उन्हीं की तरह ही हैं।

प्रेम चोपड़ा ने दिया दादाजी वाला प्यार: अमनजोत सिंह

शूटिंग के समय की यादें ताजा करते हुए अमन ने कहा कि सभी को एक-एक वैनिटी मिली हुई थी, लेकिन फिल्म में रनबीर के भाई बने सभी लोग एक ही वैनिटी में बैठे रहते थे। वे सभी मस्ती करते, बातें करते और गाने गाते थे। इस गैंग में रनबीर भी शामिल थे। वे भी उन सभी के साथ ब्रोजोन का एंजॉय लेते रहते थे। वे आगे जोड़ते हैं कि अगर उन लोगों की वैनिटी के बाहर से कोई निकल जाता तो वह यह सोचकर और सुनकर पागल हो जाता कि यह सब क्या हो रहा है, क्योंकि उस वैनिटी में से ठहाकों, गानों की आवाज बाहर खड़ा व्यक्ति आराम से सुन सकता था।

इसी तरह, प्रेम चोपड़ा के बारे में उन्होंने बताया कि जब वे पहली बार उनसे मिले तो उन्हें लगा कि वे अपने दादाजी से मिल रहे हैं, क्योंकि उनके दादाजी (जो दुनिया में नहीं हैं) ठीक वैसे ही लगते थे जैसा गेटअप (लंबीसफेद दाढ़ी, ऊंची पग) प्रेम चोपड़ा ने ले रखा था। उन्होंने प्रेम चोपड़ा से कहा भी था कि वे उनके दादाजी जैसे लगते हैं। इस पर प्रेम चोपड़ा ने उन्हें बड़े प्यार से गले लगाया, आशीर्वाद दिया और प्यार लुटाते रहे।


ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. AAMMAT.in पर विस्तार से पढ़ें बॉलीवुड की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

और पढ़ें

संबंधित स्टोरीज

Back to top button