Election: 5 राज्यों की 450 से अधिक सीटों पर वोटिंग आज, तमिलनाडु-केरल की सभी सीटों के लिए एक ही दिन में होगा मतदान

Election
Page Visited: 968
0 0
Read Time:6 Minute, 35 Second

आम मत | नई दिल्ली

Election: देश के 5 राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव के लिहाज से मंगलवार का दिन अहम रहने वाला है। 6 अप्रैल यानी मंगलवार को सभी पांच राज्यों की 450 से अधिक सीटों पर मतदान होगा। इनमें तमिलनाडु की सभी 234, केरल की सभी 140 सीटों के लिए वोटिंग होगी। वहीं, असम में तीसरे और अंतिम चरण के लिए वोटिंग भी इसी दिन होगी। इसी तरह, पश्चिम बंगाल की 31 तो केंद्रशासित प्रदेश पुड्डुचेरी की सभी 30 सीटों के लिए भी मंगलवार को ही वोट डाले जाएंगे। इन विधानसभा सीटों के अलावा मल्लपुरम और कन्याकुमारी की लोकसभा सीटों के लिए भी मंगलवार को ही मतदान होगा।

चलिए जानते हैं क्या है Election का समीकरण

तमिलनाडु

Election: तमिलनाडु में 6.28 करोड़ से ज्यादा मतदाता हैं, जो 3998 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला मंगलवार को ईवीएम में कैद कर देंगे। इस बार नजर इस बात पर है कि क्या एआईएडीएमके हैट्रिक लगाएगी या फिर एक दशक बाद राज्य की सत्ता में डीएमके की वापसी होगी। इस बार तमिलनाडु की राजनीति और चुनाव में दिग्गज राजनीतिक हस्तियों के अलावा अभिनेता कमल हासन भी प्रमुख चेहरे के रूप में नजर आएंगे। एक ओर जहां, एआएडीएमके एनडीए की सहयोगी के तौर पर चुनाव मैदान में है जिसमें बीजेपी, पीएमके और अन्य क्षेत्रीय दल शामिल हैं। वहीं डीएमके यूपीए का हिस्सा है। कांग्रेस और अन्य 11 दलों के साथ वह चुनावी मैदान में है। दूसरी ओर, कमल हासन की एमएनएम और दिनाकरण की एएमएमके अन्य सहयोगी दलों के साथ मैदान में है।

केरल

Election: राज्य में वर्ष 1980 के बाद से सीपीआई (एम) के नेतृत्व वाले लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट और कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट राज्य में एक के बाद करके सरकार बनाते रहे हैं। हालांकि, दोनों ही दलों को लागातार जीत एक भी बार नहीं मिली है। इस बार नजर इस पर होगी कि क्या यूडीएफ, एलडीएफ का तिलिस्म तोड़ेगी या फिर से सत्ता की कमान पिनराई विजयन के हाथ में जाएगी। मंगलवार को 2.74 करोड़ वोटर्स 140 सीटों के लिए 957 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। राजनीतिक जानकारों का मानना है कि बीजेपी यहां तीसरे विकल्प के तौर पर उभर सकती है। मिजोरम के पूर्व राज्यपाल कुम्मानम राजशेखरन, ‘मेट्रोमैन’ ई. श्रीधरन सहित भाजपा के कई नेताओं के लिए चुनाव महत्वपूर्ण है जो हाल ही में भगवा पार्टी का हिस्सा बने हैं।

पश्चिम बंगाल

Election: पश्चिम बंगाल में मंगलवार को विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण का मतदान होना है। इस चरण में, ग्रामीण हावड़ा, सुंदरबन क्षेत्र, डायमंड हार्बर और दक्षिण 24 परगना में बारुईपुर बेल्ट और हुगली जिले के कुछ हिस्सों में चुनाव होंगे। इस चरण के मतदान में आने वाली अधिकांश सीटों को तृणमूल का गढ़ माना जाता है। कुल 78 लाख से ज्यादा मतदाता 31 सीटों पर उतरे 205 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे।

असम

Election: असम में बची हुईं 40 विधानसभा सीटों पर वरिष्ठ मंत्री हिमंत बिस्व सरमा, 5 कैबिनेट मंत्रियों और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रणजीत कुमार दास सहित 337 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा। तीसरे और अंतिम चरण में मौजूदा 20 विधायकों के भाग्य का फैसला होगा। इसमें कांग्रेस के 8, भाजपा के 5, अखिल भारतीय संयुक्त लोकतांत्रिक मोर्चा (एआईयूडीएफ) और बीपीएफ के एक-एक और एजीपी के एक-एक उम्मीदवार शामिल हैं। भाजपा 20 सीटों पर चुनाव लड़ रही है, जबकि उसकी सहयोगी असम गण परिषद (एजीपी) नौ और यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल 8 सीटों पर चुनाव लड़ रही है. कांग्रेस ने 24 और उसके सहयोगियों AIUDF 12, बोडोलैंड पीपल्स फ्रंट (BPF) ने 8 और CPI(M) ने एक सीट पर उम्मीदवार उतारा है।

पुडुचेरी विधानसभा Election

पुडुचेरी विधानसभा की सभी 30 सीटों पर मंगलवार को वोटिंग होनी है। फिलहाल राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू है। चुनावों से पहले ही वी नारायणसामी के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार विश्वास मत हारने के बाद गिर गई थी. केंद्र शासित इस राज्य में NDA और UPA के बीच एक सीधा मुकाबला दिखाई दे रहा है. एनडीए खेमे में एन रंगासामी की अखिल भारतीय एनआर कांग्रेस 16 सीटों पर, भाजपा नौ और अन्नाद्रमुक चार सीटों पर चुनाव लड़ रही है। वहीं, कांग्रेस 14 सीटों पर चुनाव लड़ रही है और यानम में एक निर्दलीय का समर्थन कर रही है। उसकी सहयोगी द्रमुक 13 सीटों पर चुनाव लड़ रही है. राज्य में 10 लाख से ज्यादा मतदाता हैं। इन सभी राज्यों के चुनाव नतीजे 2 मई को ही घोषित किए जाएंगे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement