यूके के बाद सामने आए दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील के खतरनाक वैरिएंट, भारत में मिले मरीज

Page Visited: 143
0 0
Read Time:2 Minute, 24 Second

आम मत | नई दिल्ली

कोरोना के एक के बाद एक नए वैरिएंट देखने को मिल रहे हैं। पहले यूके और उसके बाद दक्षिण अफ्रीकी वैरिएंट के बाद अब ब्राजील वैरिएंट का खौफ सामने आया है। भारत में फरवरी के पहले सप्ताह में ब्राजील वैरिएंट का पता चला। आईसीएमआर के डीजी बलराम भार्गव के अनुसार, देश में दक्षिण अफ्रीका से लौटे 4 लोगों में दक्षिण अफ्रीकी वैरिएंट की पुष्टि हुई। सभी यात्रियों और उनके संपर्क में आए लोगों की टेस्टिंग की गई है और उन्हें क्वारंटाइन किया गया।

दक्षिण अफ्रीकी और ब्राजीलियन वैरिएंट ब्रिटेन के वैरिएंट से पूरी तरह भिन्न हैं। दूसरी ओर, देश में कोरोना के खात्मे के लिए टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, करीब 87 लाख से ज्यादा डोज दिए जा चुके हैं। गोवा, उत्तर प्रदेश और गुजरात समेत 8 राज्यों में पात्र स्वास्थ्यकर्मियों में से 60 फीसदी से अधिक लोगों को दूसरा डोज दिया जा चुका है। दिल्ली और कर्नाटक टीकाकरण को लेकर फिसड्डी राज्यों में शुमार हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि लद्दाख, झारखंड, असम, उत्तर प्रदेश (यूपी), तेलंगाना, त्रिपुरा, गुजरात और गोवा ने अपने यहां पात्र स्वास्थ्यकर्मियों के 60% से अधिक को दूसरी डोज दे दी है. इनमें से गोवा ने 100 फीसदी डोज दे दिया है। जबकि गुजरात (86%), त्रिपुरा (85.9%), तेलंगाना (81.6%) और उत्तर प्रदेश (81.2%) ही सबसे आगे चल रहे हैं. तो असम, झारखंड और लद्दाख में 60 फीसदी से ज्यादा पात्र स्वास्थ्यकर्मियों को दूसरा डोज दिया गया है।

Share
Previous post टूलकिट केसः दिशा की गिरफ्तारी पर दिल्ली महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस को जारी किया नोटिस
जो आए बदरी, वो ना आए ओदरी Next post 18 मई से खुलेंगे बदरीनाथ के कपाट, टिहरी राज दरबार में विधिवत तरीके से की गई घोषणा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement