ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी का कोरोना वैक्सीन के सफल परीक्षण का दावा

vaccine
Page Visited: 889
5 0
Read Time:2 Minute, 37 Second

आम मत | लंदन

ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ने कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने में करीब-करीब सफलता हासिल कर ली है। इस वैक्सीन के शुरुआती चरण (क्लिनिकल ट्रायल) के अच्छे नतीजे सामने आए हैं। सोमवार को मेडिकल जर्नल द लैंसेट में छपी खबर के अनुसार, वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित और असरदार है।

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की ओर से किए गए ट्वीट में भी कहा गया है कि AZD1222 नाम की इस वैक्सीन को लगाने से अच्छा इम्यून रिस्पांस मिला है। वैक्सीन ट्रायल में लगी टीम और ऑक्सफोर्ड के निगरानी समूह को इस वैक्सीन में सुरक्षा को लेकर कोई चिंता वाली बात नजर नहीं आई और इससे ताकतवर रिस्पांस पैदा हुआ है।

इस जानकारी के बाद अब ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन फ्रंटरनर वैक्सीन की लिस्ट में आगे आ गई है। ट्रायल में 1077 लोगों को शामिल किया गया, जिसमें पाया गया कि जिन्हें वैक्सीन दी गई उनमें कोरोना से लड़ने वाले एंटीबॉडी और व्हाइट ब्लड सेल्स बने।

हालांकि, इसका बड़ा पैमाने पर ट्रायल होना अभी बाकी है। इधर, ब्रिटेन ने पहले ही वैक्सीन की 10 करोड़ डोज सुरक्षित कर ली है। भारत में भी इस वैक्सीन का उत्पादन हो रहा है। पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया को ऑक्सफोर्ड वैक्सीन का उत्पादन करने का जिम्मा मिला है।

कोरोना वायरस की वैक्सीन की दौड़ में फिलहाल ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन ही सबसे आगे है। एक तरफ जहां कई वैक्सीन अपने अंतिम चरण या एडवांस स्टेज में पहुंचने वाली हैं। वहीं ऑक्सफोर्ड वैक्सीन इस चरण में पहले से ही है। अगर सब कुछ सही रहा तो ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका द्वारा तैयार ये वैक्सीन सितंबर तक लोगों के लिए आ जाएगी।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement