राजस्थानNewsराज्य

29 मई को नसीराबाद बंद का ऐलान,

आम मत | अजमेर

नसीराबाद बंद का ऐलान: राजस्थान में सीएम गहलोत द्वारा अजमेर के नसीराबाद को नव घोषित केकड़ी जिले में स्थानांतरित करने के विरोध में नसीराबाद शहर 29 मई को बंद रहेगा। नसीराबाद नगरपालिका की पूर्व अध्यक्ष शारदा मित्तलवाल के नेतृत्व में विभिन्न व्यापारिक और सामाजिक संगठनों ने बंद का समर्थन किया है।

नसीराबाद बंद का ऐलान, केकडी जिले में शामिल करने का विरोध

Rajasthan Nasirabad Railway Station Near Ajmer District Kekari,
नसीराबाद बंद
29 मई को नसीराबाद बंद का ऐलान, 7

नसीराबाद बंद का ऐलान: नसीराबाद की जनता केकड़ी जिले में शामिल किये जाने का विरोध करते हुए नसीराबाद को अजमेर में ही यथावत रहने देने की मांग के साथ 29 तारीख को बंद रखेगी। इसमें आवश्यक सेवाओं को बंद से मुक्त रखा जायेगा ।

नसीराबाद के लोगों का तर्क है कि अभी हम अजमेर मुख्यालय के नजदीक है और केवल 22-23 किलोमीटर की दूरी है। जबकि केकड़ी जाना कष्टदायक रहेगा क्योंकि नसीराबाद से केकड़ी की दूरी 65 किलोमीटर से ज्यादा है।

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने 19 नए जिलों और तीन नए संभागों की घोषणा की

राजस्थान में अब कुल 50 जिले होंगे। राज्य सरकार ने अब तक कुल 19 नए जिलों की घोषणा की है।

राजस्थान में 33 पूर्व जिलों की सूची
S. No.जिला मुख्यालयक्षेत्र (किमी² में)जनसंख्या [उद्धरण वांछित]संभाग
       
1.अजमेर अजमेर8,4812,584,913अजमेर
2.अलवर अलवर8,3803,671,999जयपुर
3.बांसवाड़ा बांसवाड़ा5,0371,798,194उदयपुर
4.बरन बारां6,9921,223,921कोटा
5.बाड़मेर बाड़मेर28,3872,604,453जोधपुर
6.भरतपुर भरतपुर5,0662,549,121भरतपुर
7.भीलवाड़ा भीलवाड़ा10,4552,410,459अजमेर
8.बीकानेर बीकानेर30,2472,367,745बीकानेर
9.बूंदी बूंदी5,5501,113,725कोटा
10.चित्तौड़गढ़ चित्तौड़गढ़7,8221,544,392उदयपुर
11.चूरू चूरू13,8582,041,172बीकानेर
12.दौसा दौसा3,4321,637,226जयपुर
13.धौलपुर धौलपुर3,0331,207,293भरतपुर
14.डूंगरपुर डूंगरपुर3,7701,388,906उदयपुर
15.हनुमानगढ़ हनुमानगढ़9,6561,774,692बीकानेर
16.जयपुर जयपुर11,1436,626,178जयपुर
17.जैसलमेर जैसलमेर38,401669,919जोधपुर
18.जालोर जालौर10,6401,828,730जोधपुर
19.झालावाड़ झालावाड़6,9281,411,129कोटा
20.झुंझुनू झुंझुनू5,9282,137,045जयपुर
21.जोधपुर जोधपुर22,8503,687,165जोधपुर
22.करौली करौली5,0431,458,248भरतपुर
23.कोटा कोटा5,2171,951,014कोटा
24.नागौर नागौर17,7183,307,743अजमेर
25.पाली पाली12,3872,037,543जोधपुर
26.प्रतापगढ़ प्रतापगढ़4,117867,848उदयपुर
27.राजसमंद राजसमंद4,5501,156,597उदयपुर
28.सवाई माधोपुर सवाई माधोपुर10,5271,335,551भरतपुर
29.सीकर सीकर7,7422,677,333जयपुर
30.सिरोही सिरोही5,1361,036,346जोधपुर
31.श्री गंगानगर श्री गंगानगर11,1541,969,168बीकानेर
32.टोंक टोंक7,1941,421,326अजमेर
33.उदयपुर उदयपुर11,7243,068,420उदयपुर
राजस्थान में 33 पूर्व जिलों की सूची

राजस्थान में नए जिलों की घोषणा: कौन कौन से होंगे नए जिले?

राजस्थान में 19 नए जिलों की सूची
S.No.जिला
1.अनूपगढ़ (श्रीगंगानगर)
2.बालोतरा (बाड़मेर)
3.ब्यावर (अजमेर)
4.डीग (भरतपुर)
5.डीडवाना-कुचामनसिटी (नागौर)
6.दूदू (जयपुर)
7.गंगापुर सिटी (सवाईमाधोपुर)
8.जयपुर-उत्तर
9.जयपुर-दक्षिण
10.जोधपुर पूर्व
11जोधपुर पश्चिम
12.केकड़ी (अजमेर)
13.कोटपूतली-बहरोड़ (जयपुर)
14.खैरथल (अलवर)
15.नीम का थाना (सीकर)
16.फलोदी (जोधपुर)
17.सलूंबर (उदयपुर)
18.सांचोर (जालोर)
19.शाहपुरा (भीलवाड़ा)
राजस्थान में 19 नए जिलों की सूची

राजस्थान में नए जिलों की घोषणा: क्या कुछ होगा नया जानिए संक्षिप्त विवरण?

राजस्थान में नए जिलों की घोषणा से राज्य के निवासियों में बहुत उत्साह है। यह संक्षिप्त विवरण उन नए जिलों के बारे में आपको बताएगा कि वे क्या हैं और उनके लिए क्या होगा।
नए जिलों के नाम और स्थान को पहले से ही घोषित किया गया है। इन जिलों में कई गांव और शहर होंगे, जो अपने आप में एक संयुक्त प्रदेश बनाएंगे। नए जिलों के लिए निर्माण और विकास के लिए विभिन्न स्तर पर सरकारी और गैर-सरकारी आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

नए जिलों के लिए सरकार के द्वारा विभिन्न सुविधाओं को प्रदान किया जाएगा, जैसे कि शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यावरण, वित्त, यातायात, संचार और अन्य सुविधाएं। सरकार नए जिलों के लिए अपने विभिन्न योजनाओं को संचालित करने के लिए विभिन्न संस्थाओं को भी आर्थिक सहायता प्रदान करेगी।

नए जिलों के लिए सरकार के द्वारा अनेक कार्यक्रम और योजनाएं शुरू की जाएंगी, जो उनके विकास के लिए अहम होगी। ये योजनाएं स्थानीय आवास, शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यावरण, यातायात, संचार और अन्य सुविधाओं के विकास के लिए किया जाएगा। राजस्थान में नए जिलों की घोषणा से राज्य में बहुत उत्साह है। ये जिले राजस्थान के विकास के लिए अहम होंगे और उनके लिए कई सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

राजस्थान में नए जिलों की घोषणा: क्या होगा नया प्रावधान?

राजस्थान में नए जिलों की घोषणा के बाद, .राज्य की गहलोत सरकार नई प्रावधान प्रणाली लागू करने की घोषणा कर सकती है। यह प्रावधान प्रणाली नए जिलों को आरक्षित करने के लिए सरकार द्वारा स्थापित कि जाएगी। इस प्रावधान प्रणाली के तहत, .राज्य की गहलोत सरकार ने सभी नए जिलों को सरकारी सेवाओं के अनुसार आरक्षित करने के लिए एक निर्देशिका बनाई जा सकती है।

इस निर्देशिका के तहत, .राज्य की गहलोत सरकार नए जिलों को आरक्षित करने के लिए सरकारी सेवाओं के अनुसार कई कार्यक्रम और योजनाओं को लागू करने की घोषणा करेगी है। ये कार्यक्रम और योजनाएं नए जिलों को सरकारी सेवाओं के अनुसार आरक्षित करने के लिए काफी मदद करेगी। इसके अलावा, .राज्य की गहलोत सरकार ने नए जिलों को समाज के सभी आयु वर्गों को आरक्षित करने के लिए अन्य कार्यक्रम और योजनाओं को भी लागू करने की घोषणा की है। इससे समाज के सभी आयु वर्गों को नए जिलों में आरक्षित करने के लिए मदद मिलेगी।

राजस्थान में नए जिलों की घोषणा: क्या होगा नया प्रशासन?

राजस्थान में नए जिलों की घोषणा से जनता को बहुत उत्साह है। यह उन लोगों को भी सुख देगा जो अपने जिले में अधिकार और सुविधाओं के लिए प्रतिबद्ध हैं। नए जिलों की घोषणा से नए प्रशासन को भी बल मिलेगा। नए प्रशासन के अंतर्गत, राजस्थान सरकार नए जिलों के प्रशासन के लिए अपने स्वयं के अधिकारी और अधिकारियों को नियुक्त करेगी। ये अधिकारी और अधिकारियों नए जिलों के लिए नियमों और नीतियों को स्थापित करेंगे और सुरक्षा और अनुशासन को बनाए रखेंगे।

ये अधिकारी और अधिकारियों नए जिलों के लिए अधिकार और सुविधाओं को सुनिश्चित करेंगे और जनता को सुविधाओं के लिए अधिक उपयोग की अनुमति देंगे। नए प्रशासन के अंतर्गत, नए जिलों के लिए स्थापित किए गए नियमों और नीतियों को अनुसरण करने के लिए सरकार ने अपने अधिकारी और अधिकारियों को नियुक्त किया है। इससे नए जिलों के लिए अधिकार और सुविधाओं को सुनिश्चित किया जा सकेगा।

राजस्थान में नए जिलों की घोषणा: क्या होगा नया स्थानीय विकास?

राजस्थान में नए जिलों की घोषणा के बाद, राज्य के स्थानीय विकास को बढ़ावा देने के लिए अनेक संभावित उपाय हैं। यह उपाय राज्य के क्षेत्रीय विकास को सशक्त करने के लिए आवश्यक हैं। प्राथमिकता राज्य के क्षेत्रीय विकास के लिए स्थानीय सरकारों को देनी चाहिए। यह सरकारों को स्थानीय स्तर पर समस्याओं का हल ढूंढने के लिए आवश्यक साधनों और सुविधाओं को प्रदान करने के लिए अधिकार देना चाहिए।

इसके अलावा, राज्य के क्षेत्रीय विकास को बढ़ावा देने के लिए स्थानीय उद्योग को बढ़ावा देना आवश्यक है। राज्य के नए जिलों में स्थानीय उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए सरकार को कई प्रकार के विकास योजनाओं को शुरू करने की आवश्यकता है। योजनाओं के तहत राज्य के नए जिलों में स्थानीय उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए सरकार को उद्योग के विकास के लिए कई सुविधाएं प्रदान करनी चाहिए।

राज्य के नए जिलों में स्थानीय विकास को बढ़ावा देने के लिए, सरकार को कई प्रकार के वित्तीय सहायताएं प्रदान करनी चाहिए। यह सहायताएं उद्योगों को नए जिलों में विकास के लिए आवश्यक साधनों और सुविधाओं को प्राप्त करने में मदद करेंगी। साथ ही, सरकार को नए जिलों में स्थानीय विकास के लिए स्थानीय उद्योगों को प्रोत्साहित करने के लिए कई योजनाओं को शुरू करना आवश्यक है।

तो, राजस्थान में नए जिलों की घोषणा के बाद, राज्य के स्थानीय विकास को बढ़ावा देने के लिए कई उपाय हैं। सरकार को स्थानीय स्तर पर समस्याओं का हल ढूंढने के लिए आवश्यक साधनों और सुविधाओं को प्रदान करने के लिए अत्यधिक प्रयास करने होंगे।

राजस्थान में नए जिलों की घोषणा: क्या होगा नया आर्थिक संकल्प?

राजस्थान में नए जिलों की घोषणा राजस्थान के आर्थिक संकल्प को नई दिशा देगी। राज्य सरकार ने पिछले कुछ महीनों में नए जिलों की घोषणा की है। यह आर्थिक संकल्प को नई दिशा देगी और राज्य के विकास को बढ़ावा देगी। नए जिलों के साथ नया आर्थिक संकल्प होगा जो राज्य के विकास को बढ़ावा देगा।

नए जिलों के साथ राज्य सरकार के पास नयी आर्थिक संकल्प होगी जो राज्य के आर्थिक विकास को बढ़ावा देगी। राज्य सरकार ने अपने आर्थिक नीति को बदलने के लिए नए जिलों की घोषणा की है। यह आर्थिक नीति राज्य के उद्योग, आर्थिक विकास और वित्तीय सुरक्षा को बढ़ावा देगी।

राज्य सरकार ने नए जिलों के साथ नयी आर्थिक संकल्प को लागू करने के लिए अनेक परियोजनाओं को शुरू करने कि योजना बनाई है। ये परियोजनाएं राज्य के उद्योग और आर्थिक विकास को बढ़ावा देगीं। ये परियोजनाएं राज्य के आर्थिक विकास को बढ़ावा देगी और राज्य के वित्तीय सुरक्षा को बढ़ावा देगी। राज्य सरकार ने अपनी आर्थिक एवं सामाजिक नीति को बदलने के लिए नए जिलों की घोषणा की है और नयी आर्थिक संकल्प को लागू करने के लिए अनेक परियोजनाओं को शुरू किया है।

नवीनतम जानकारी और ख़बरों के लिये पढ़ते रहिए हिंदी दैनिक समाचार पत्र आम मत (AAMMAT.In)

सभी ताज़ा ख़बरें यहाँ पढ़ें
Follow Us: Facebook | YouTube | Twitter

और पढ़ें

संबंधित स्टोरीज

Back to top button