ऐसे बनाएं वर्चुअल आधार नंबर, बच पाएंगे ऑनलाइन फ्रॉड से भी

Page Visited: 275
2 0
Read Time:3 Minute, 34 Second

आम मत | नई दिल्ली

जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी का स्तर बढ़ रहा है, वैसे-वैसे उससे धोखाधड़ी का खतरा भी बढ़ गया है। हैकर्स, ऑनलाइन फ्रॉड करने वाले अपराधी भी बहुत बड़े स्तर पर काम करने लगे हैं। आपके पास कई प्रकार के कॉल आते ही होंगे। वे आपको बताते होंगे कि आपने किसी कॉम्पिटिशन या उनके लकी ड्रॉ में आपके नंबर को लाखों-करोड़ों की लॉटरी लगी है।

इस पुरस्कार की राशि आपके खाते में जमा कराने के लिए वे आप से खाता संख्या, पैन कार्ड और आधार कार्ड नंबर मांगते हैं। कई लोग इन अपराधियों के झांसे में आ जाते हैं और जैसे ही वे ये सभी चीजें उन्हें देते हैं। वे फ्रॉड का शिकार हो जाते हैं और उन रुपए से भी हाथ धो बैठते हैं, जो उनके खाते में पहले से जमा होते हैं।

अगर आप चाहते हैं कि आपकी पर्सनल इंफॉर्मेशन हर कहीं लीक ना हो तो आप इसे सुरक्षित रख सकते हैं। इसके लिए आपको छोटा सा काम करना होगा। वह काम है वर्चुअल आधार कार्ड बनाने का। आप सोच रहे होंगे कि इसे बनाने का प्रोसेसर काफी लंबा होगा, तो आप बिलकुल गलत सोच रहे हैं। इसे बनाने में आपके बस कुछ ही मिनट लगेंगे। आइए आपको बताते हैं कि वर्चुअल आधार कार्ड कैसे बना सकते हैं।

कैसे बनाएं वर्चुअल आईडी

वर्चुअल आधार कार्ड बनाने के लिए सबसे पहले आधार बनवाने की आधिकारिक वेबसाइट http://www.uidai.gov.in/ पर जाना होगा।

वेबसाइट के होम पेज के Title Bar पर कई ऑप्शन दिखाई देंगे। इनमें से My Aadhar पर क्लिक करना होगा। यहां आपको Virtual ID (VID) Generetor का ऑप्शन दिखाई देगा।

इस ऑप्शन पर क्लिक करने पर नए टेब में Generate / Retrieve Virtual ID का पेज खुलेगा। इसमें अपना आधार नंबर, कैप्चा डालना होगा। इन दोनों स्टेप के लिए यहां दो और स्टेप दिखाई देंगे।

इसमें एंटर ओटीपी और सबसे नीचे Generate/ Retrieve VID का ऑप्शन दिखाई देंगे। By Default यह Retrieve VID पर क्लिक रहता है। अगर आप चाहे तो Generate VID पर क्लिक करके नया वर्चुअल आईडी प्राप्त कर सकते हैं।

क्या होगा फायदा

वर्चुअल नंबर को जेनरेट करने के बाद आपको अपना ओरिजनल आधार नंबर किसी भी थर्ड पार्टी को नहीं देना होगा। आप इस वर्चुअल नंबर का इस्तेमाल बैंक अकाउंट खोलने, सरकारी सब्सिडी के लिए, तत्काल पासपोर्ट बनवाने के लिए और नई इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने के लिए कर सकते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एक आधार नंबर के लिए केवल एक ही वर्चुअल आईडी बनाई जा सकती है और यह तीन दिन तक वैध रहेगी।

राजनीति, विज्ञान, टेक्नोलॉजी, एंटरटेनमेंट से जुड़ी खबरों के लिए सब्सक्राइब करें
आम मत

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *