मध्यप्रदेश में नहर में गिरी बस, 40 लोगों की मौत, सीएम शिवराज की मृतकों को 5 लाख मदद की घोषणा

Page Visited: 156
0 0
Read Time:2 Minute, 38 Second

आम मत | सतना

मध्यप्रदेश में मंगलवार को बड़ा हादसा हो गया। 50 से ज्यादा यात्रियों से भरी बस के नहर में गिरने से 40 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई। अब तक 42 शव मिल चुके हैं। 6 लोग बचा लिए गए। ड्राइवर तैरकर बाहर आ गया। उसे हिरासत में ले लिया गया। मामले में राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृतकों के परिजनों के लिए पांच लाख रुपए की सहायता राशि देने की बात कही है. साथ ही दो मंत्रियों को घटनास्थल पर भेजा गया है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी इस मामले में शिवराज सिंह चौहान से बात की है और जल्द से जल्द बचाव कार्य कराने को लेकर चर्चा की है। अमित शाह ने कहा कि स्थानीय प्रशासन राहत व बचाव के लिए हर संभव मदद पहुंचा रहा है। मैं मृतकों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं व घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

जानकारी के अनुसार, बस सीधी से सतना जा रही थी। हादसा रामपुर के नैकिन इलाके में हुआ। बस को क्रेन की मदद से नहर के बाहर निकाला गया। नहर की गहराई 20 से 22 फीट बताई जा रही है। जिस वक्त हादसा हुआ, तब बहाव तेज था, लिहाजा यात्रियों को संभलने का मौका नहीं मिला। मृतकों में 12 छात्र भी थे। ये सभी रेलवे की परीक्षा देने सतना जा रहे थे।

पुलिस के अनुसार, बस की क्षमता 32 लोगों की थी, लेकिन इसमें 54 लोग भर लिए गए थे। बस को सीधी मार्ग पर छुहिया घाटी से होकर सतना जाना था, लेकिन यहां जाम की वजह से ड्राइवर ने रूट बदल दिया। वह नहर के किनारे से बस ले जा रहा था। यह रास्ता काफी संकरा है। इसी दौरान ड्राइवर ने नियंत्रण खो दिया। झांसी से रांची जाने वाला हाईवे सतना, रीवा, सीधी और सिंगरौली होते हुए जाता है। यहां जगह-जगह सड़क खराब और अधूरी है। इस वजह से यहां आए दिन जाम लगा रहता है।

Share
Previous post अक्षर-अश्विन की फिरकी के आगे इंग्लैंड नतमस्तक, 317 रन से दूसरा टेस्ट जीता भारत
Next post पुलिस का दावा दिशा रवि ने तैयार किया था टूलकिट, कोर्ट ने 5 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement