अयोध्याः मस्जिद के डिजाइन पर लगी मुहर, अस्पताल-म्यूजियम और 200 बेड का होगा अस्पताल

Page Visited: 458
0 0
Read Time:2 Minute, 31 Second

आम मत | अयोध्या

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अयोध्या के धुन्नीपुर गांव में मिली 5 एकड़ भूमि पर बनने वाली मस्जिद की नींव और डिजाइन पर अंतिम मुहर लग गई है। इस भव्य मस्जिद का लेआउट और डिजाइन शनिवार को जारी किया गया। इंडो-इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन ने वर्चुअली इसकी लॉन्चिंग की। मस्जिद की खास बात यह है कि इसमें गुम्बद नहीं होगा। साथ ही, इस मस्जिद का नाम किसी बादशाह के नाम पर नहीं होगा। मस्जिद परिसर में म्यूजियम, लाइब्रेरी और एक कम्युनिटी किचन भी बनेगा। 200 से 300 बेड का एक हॉस्पिटल भी यहां रहेगा।

फाउंडेशन से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, पूरा प्रोजेक्ट दो साल में तैयार होने की उम्मीद है। इसके लिए बजट की कोई लिमिट तय नहीं की गई है। इसके अलावा जो मस्जिद बनाई जा रही है उसमें एक साथ दो हजार नमाजी नमाज अदा कर सकते है। 3500 स्क्वॉयर मीटर में बनने वाली इस मस्जिद में दो फ्लोर होंगे। महिलाओं के लिए अलग स्पेस होगा। इसे ईको-फ्रेंडली बनाया जाएगा और सोलर एनर्जी का इस्तेमाल किया जाएगा।

मस्जिद का आकार गोल यानी वर्तुलाकार रखा गया है। इसी तरह, कैंपस में 24 हजार 150 स्क्वॉयर मीटर में अस्पताल बनाया जाएगा। चार मंजिला इस अस्पताल में 200 बेड होंगे। मस्जिद बनने में 6 और अस्पताल बनने में एक साल का समय लग सकता है।

26 जनवरी से शुरू हो सकता है निर्माण कार्य

फाउंडेशन के प्रवक्ता अतहर हुसैन ने बताया कि मस्जिद निर्माण नक्शा पास होने के बाद शुरू होगा। अप्रूवल मिला, तो 26 जनवरी को शुरुआत करेंगे। इसके लिए कोई बड़ा फंक्शन नहीं किया जाएगा। अगली तारीख 15 अगस्त होगी। यानी 26 जनवरी या 15 अगस्त से मस्जिद निर्माण की शुरुआत होगी।

Share
Previous post पश्चिम बंगालः मिदनापुर में शाह का दीदी पर वार, कहा- चुनाव आते-आते अकेली रह जाएंगी ममता बनर्जी
Next post डे-नाइट टेस्टः ऑस्ट्रेलिया के सामने 36 पर ढेर विराट के शेर, बढ़त के बावजूद हारी भारतीय टीम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement