Y श्रेणी सुरक्षा पर कंगना बोली-गृहमंत्री ने बेटी के आत्मसम्मान की रखी लाज

Kangana Ranaut कंगना रनौट को Y श्रेणी सुरक्षा
Page Visited: 753
3 0
Read Time:3 Minute, 6 Second

आम मत | नई दिल्ली

केंद्रीय गृहमंत्रालय ने सोमवार को अभिनेत्री कंगना रनौट को Y श्रेणी सुरक्षा देने की घोषणा की। उनकी Y श्रेणी सुरक्षा में 11 जवान तैनात रहेंगे। इसमें एक या दो कमांडो और बाकी पुलिसकर्मी होंगे। बताया जा रहा है कि 9 सितंबर को जब कंगना मुंबई पहुंचेंगी, उन्हें Y श्रेणी सुरक्षा मिल जाएगी। इस पर, कंगना ने ट्वीट कर खुशी जाहिर की।

Hindu Calendar 2022 | Panchang 2022 | Hindi Calendar 2022
कंगना रनौट को Y श्रेणी सुरक्षा

कंगना ने गृह मंत्री अमित शाह को टैग करते हुए ट्वीट किया, ‘ये प्रमाण है कि अब किसी देशभक्त आवाज़ को कोई फ़ासीवादी नहीं कुचल सकेगा,मैं अमित शाह जी की आभारी हूं। वो चाहते तो हालातों के चलते मुझे कुछ दिन बाद मुंबई जाने की सलाह देते मगर उन्होंने भारत की एक बेटी के वचनों का मान रखा, हमारे स्वाभिमान और आत्मसम्मान की लाज रखी, जय हिंद।’

गौरतलब है कि सुशांत सिंह मामले में कंगना ने ट्वीट किया था कि मुंबई में पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर जैसा महसूस क्यों हो रहा है? उन्होंने एक सितंबर की एक खबर भी टैग की थी, जिसमें सचिन राउत ने कथित रूप से कहा था कि रनोट को यदि मुंबई पुलिस से डर है तो उन्हें मुंबई वापस नहीं आना चाहिए।

कंगना के ऑफिस पर बीएमसी की रेड

कंगना के मुंबई स्थित दफ्तर पर बीएमसी ने रेड डाली। अभिनेत्री ने खुद इसका वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड किया है। अभिनेत्री ने बीएमसी की इस रेड को बदले की कार्रवाई बताया है। कंगना के खिलाफ महाराष्ट्र नेताओं की बयानबाजी जारी है। सोमवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मंत्री विजय वडेट्टीवार ने उन्हें भाजपा का पोपट (तोता) करार देते हुए कहा कि उनके मुंबई आने पर जनता उन्हें खुद ही सबक सिखाएगी।

कंगना ने ट्विटर पर लिखा, ‘ये मुंबई में मणिकर्णिका फिल्म्स का ऑफिस है, जिसे मैंने पंद्रह साल मेहनत करके कमाया है। मेरा जिंदगी में एक ही सपना था मैं जब भी फिल्म निर्माता बनूं, मेरा अपना खुद का ऑफिस हो, मगर लगता है ये सपना टूटने का वक्त आ गया है, आज वहां अचानक बीएमसी के कुछ लोग आए हैं।’

Kangana Ranaut कंगना रनौट को Y श्रेणी सुरक्षा
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement