किसानों को राहत देने के लिए रेलवे की पहली ‘किसान रेल’ आज से

Page Visited: 183
0 0
Read Time:1 Minute, 59 Second

आम मत | नई दिल्ली

भारतीय रेलवे ने किसानों को राहत पहुंचाने के उद्देश्य से नई रेल सेवा की शुरुआत की है।  फल और सब्जियों के मालवहन के लिए भारतीय रेल शुक्रवार 7 अगस्त से पहली ‘किसान रेल’ सेवा शुरू करने जा रही है।

रेलवे ने गुरुवार को कहा कि पहली किसान रेल महाराष्ट्र के देवलाली से बिहार के दानापुर के बीच चलेगी। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस साल फरवरी में पेश बजट में जल्दी खराब होने वाले फल एवं सब्जियों जैसे उत्पादों के मालवहन के लिए ‘किसान रेल’ चलाने की घोषणा की थी।

यह भी पढ़ेंः नई शिक्षा नीतिः पीएम मोदी आज कुलपतियों को करेंगे संबोधित

इस सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी) योजना के तहत शीत भंडारण के साथ किसान उपज के परिवहन की व्यवस्था होगी। रेल मंत्रालय ने कहा, ‘इस साल के बजट में जल्दी खराब होने वाले कृषि उत्पादों के लिए बेहतर आपूर्ति श्रृंखला स्थापित करने के वास्ते ‘किसान रेल’ चलाने की घोषणा की गई है।

रेल मंत्रालय इस प्रकार की पहली किसान रेल 7 अगस्त को दिन में 11 बजे देवलाली से दानापुर के लिए चला रहा है। यह रेल साप्ताहिक आधार पर चलेगी।’ वक्तव्य में कहा गया है कि यह रेलगाड़ी 1,519 किमी का सफर करते हुए अगले दिन करीब 32 घंटे बाद शाम पौने सात बजे दानापुर (बिहार) पहुंचेगी।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *