प्रमुख खबरेंराष्ट्रीय खबरें

IMF का अनुमानः इस साल बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति जीडीपी रहेगी भारत से ज्यादा

आम मत | नई दिल्ली

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) के अनुसार, पिछड़े देशों में गिने जाने वाला बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति जीडीपी (पर कैपिटा) इस कैलेंडर वर्ष (जनवरी से दिसंबर) में भारत से ज्यादा रह सकती है। आईएमएफ के मुताबिक, बांग्लादेश की इस कैलेंडर वर्ष में प्रति व्यक्ति जीडीपी 1 लाख 38 हजार 400 रुपए रह सकती है।

वहीं इस समय सीमा में भारत की पर कैपिटा 1 लाख 37 हजार 594 रुपए रहने का अनुमान है। हालांकि, अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने यह भी कहा कि 2021 में भारत इसमें आगे हो जाएगा। 2021 में भारत में प्रति व्यक्ति जीडीपी एक लाख 48 हजार 190 रुपए होगी, जबकि बांग्लादेश के लोगों की जीडीपी एक लाख 45 हजार 270 रुपए होगी।

अभी भारत में एक लाख 37 हजार 21 रुपए, जबकि बांग्लादेश में एक लाख 37 हजार 824 रुपए प्रति व्यक्ति जीडीपी है। यह आंकड़ा एक डॉलर पर 73 रुपए के आधार पर है।

पाकिस्तान और नेपाल से ही आगे रहेगा भारत

अगर आईएमएफ का अनुमान सही होता है तो भारत अपने क्षेत्र में जीडीपी के मामले में सिर्फ पाकिस्तान और नेपाल से आगे रह पाएगा। इसका मतलब है कि दक्षिण एशिया में भूटान, श्रीलंका, मालदीव और निश्चित रूप से बांग्लादेश भारत से आगे होंगे। एक तरफ जहां भारत का प्रदर्शन गिर सकता है वहीं नेपाल और भूटान की अर्थव्यवस्था इस साल बढ़ने की उम्मीद है।

राहुल गांधी का केंद्र सरकार पर तंज

IMF का अनुमानः इस साल बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति जीडीपी रहेगी भारत से ज्यादा | modi rahul
IMF का अनुमानः इस साल बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति जीडीपी रहेगी भारत से ज्यादा 7

आईएमएफ इस रिपोर्ट के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा। राहुल गांधी ने ट्वीट किया – भाजपा के नफरत से भरे 6 साल के सांस्कृतिक राष्ट्रवाद का सॉलिड अचीवमेंट है। इस पर सरकार ने जवाब दिया कि 2019 में परचेजिंग पावर पैरिटी (पीपीपी) के आधार पर भारत की जीडीपी बांग्लादेश के मुकाबले 11 गुना ज्यादा थी।

उभरती अर्थव्यवस्थाओं में सबसे बड़ी गिरावट

आईएमएफ ने रिपोर्ट में कहा है कि विकासशील देशों और उभरती अर्थव्यवस्थाओं के बीच यह सबसे बड़ी गिरावट होगी। आईएमएफ ने रिपोर्ट में कहा है कि चीन के अलावा अन्य उभरती अर्थव्यवस्थाएं 2020 में 5.7 फीसदी की की कमी देखेंगी। रिपोर्ट ने भारत और इंडोनेशिया जैसे देशों में वायरस के फैलने से होने वाले जोखिम को भी बताया है। इन देशों की अर्थव्यवस्थाएं पर्यटन और कमोडिटीज़ जैसे सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों पर निर्भर हैं।

और पढ़ें

संबंधित स्टोरीज

Back to top button