एंटरटेनमेंटलाइफस्टाइल

जिंदगी जीने का फलसफा सिखाता है दिल बेचारा का ट्रेलर

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को आत्महत्या कर ली थी। उनकी अंतिम फिल्म का ट्रेलर सोमवार 6 जुलाई को रिलीज हो गया। फिल्म का नाम है दिल बेचारा। उनकी मौत के बाद और पहले से ही उनके फैंस फिल्म का इंतजार कर रहे थे। फॉक्स स्टार स्टूडियोज की इस फिल्म की सिनेमाघरों में रिलीज 24 जुलाई को होनी थी। कोरोना और देशभर में लॉकडाउन के कारण अब यह फिल्म ओटीटी प्लेटफॉर्म डिज्नी हॉटस्टार प्लस पर इसी तारीख को रिलीज होने जा रही है। फॉक्स स्टार हिंदी के ऑफिशियल यू-ट्यूब चैनल पर इस फिल्म का ट्रेलर सोमवार को रिलीज किया गया। करीब ढाई मिनट के इस ट्रेलर में सुशांत और संजना सांघी की जबरदस्त केमिस्ट्री देखने को मिली।

जिंदगी जीने का फलसफा सिखाता है दिल बेचारा का ट्रेलर | dil bechara
अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म दिल बेचारा का पोस्टर।

इस पूरे ट्रेलर में कई शानदार हैं, जिनमें सुशांत द्वारा बोला गया डायलॉग जन्म कब लेना है और मरना कब है ये हम डिसाइड नहीं कर सकते हैं, पर जीना कैसे है यह हम डिसाइड कर सकते हैं। फिल्म नॉवेल फॉल्ट इन अवर स्टार्स पर बेस्ड है। इस फिल्म के जरिए संजना सांघी बॉलीवुड में लीड रोल में डेब्यू कर रही हैं। वे इससे पहले रॉकस्टार, हिंदी मिडियम, फुकरे रिर्ट्न्स में छोटी-छोटी भूमिकाओं में दिखाई दे चुकी हैं। फिल्म के डायरेक्टर हैं प्रसिद्ध कास्टिंग डायरेक्टर मुकेश छाबड़ा, जिनकी यह बतौर निर्देशक यह पहली फिल्म है। फिल्म में संजना किजी बासु का किरदार निभा रही है, जो कैंसर पैशेंट है। वहीं, सुशांत एक मस्तमौला युवक का रोल निभा रहे हैं, जिसे किजी से प्यार हो जाता है। इसके बाद फिल्म में क्या-क्या मोड़ आएंगे उसे जानने के लिए फिल्म को देखना पड़ेगा।

जिंदगी जीने का फलसफा सिखाता है दिल बेचारा का ट्रेलर | dil bechara 1
सुशांत के दोस्त और कास्टिंग डायरेक्टर मुकेश छाबड़ा की यह पहली निर्देशित फिल्म है।

सुशांत की यह अंतिम फिल्म पहले दिसंबर 2019 में रिलीज होने वाली थी, इसके बाद इसकी रिलीज डेट बदलकर 8 मई कर दी गई। कोरोना के कारण यह इस तारीख पर भी रिलीज नहीं हो पाई। इस बीच अभिनेता ने 14 मई को मुंबई स्थित अपने अपार्टमेंट में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उनकी मौत के लिए लोगों ने करण जौहर, सलमान खान जैसे कई दिग्गज सेलेब्रिटीज को जिम्मेदार भी बताया। बिहार में उनके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज हुआ। इधर, फिल्म के ओटीटी पर रिलीज को लेकर काफी विरोध जताया गया। इस पर संजना ने कहा था ‘पूरी टीम ने ढाई साल तक खूब पसीना बहाया है। फिल्म बड़े पर्दे पर रिलीज करने के लिए ही बनी थी लेकिन कोरोना की वजह से ऐसा नहीं हो सका।’ ‘फिल्म को लेकर स्क्रीन का आकार मत देखिए, इसके बजाय दिल के आकार को जितना चाहें बड़ा बना सकते हैं, जितना चाहें प्यार और गर्व से भर सकते हैं।

जिंदगी जीने का फलसफा सिखाता है दिल बेचारा का ट्रेलर | sushant sanjana
जिंदगी जीने का फलसफा सिखाता है दिल बेचारा का ट्रेलर 8

दूसरी ओर, सोमवार को ट्विटर पर #DilBecharaTrailer ट्रेंड करता रहा। सुशांत के फैन्स का कहना था कि वे इसे यूट्यूब पर सबसे ज्यादा बार देखे जाने वाला और सबसे ज्यादा लाइक पाने वाला ट्रेलर बनाकर रहेंगे। इसके लिए उन्होंने तरह-तरह के मीम्स भी शेयर किए। ट्रेलर रिलीज के महज 2 घंटे में ही इसे 5 लाख से ज्यादा बार देखा गया। एक दिन में यह ट्रेलर करीब 1 करोड़ बार देखा गया। ट्रेलर संजना की आवाज के साथ शुरू होता है, जिसमें वह कहती हैं कि मेरी नानी कहानी सुनाती थी कि एक था राजा एक थी रानी, दोनों मर गए खत्म कहानी। ट्रेलर में सुशांत और संजना की केमिस्ट्री काफी अच्छी लग रही है। सुशांत हमेशा की ही तरह अच्छी एक्टिंग नजर आए। उनके कई डायलॉग जल्दी ही लोगों की जुबां पर चढ़ भी जाएंगे। ट्रेलर काफी अच्छा बन पड़ा है, अगर फिल्म की एडिटिंग अच्छी हुई और स्टोरी में दम हुआ तो इसे सफल होने से कोई नहीं रोक सकता। ट्रेलर को 5 में से 3 स्टार दिए जा सकते हैं।

और पढ़ें

संबंधित स्टोरीज

Back to top button