अंतराष्ट्रीय खबरेंप्रमुख खबरेंराजनीति खबरें

हंगामे, हिंसा के बाद बाइडेन की जीत पर लगी मुहर, 20 जनवरी को ट्रंप करेंगे सत्ता हस्तांतरित

आम मत | वॉशिंगटन

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के बाद जिस बात का डर था, वही हुआ। हिंसा की आशंका थी और ये हुई भी। 3 नवंबर को ही यह तय हो गया था कि जो बाइडेन दुनिया के सबसे ताकतवर देश के अगले राष्ट्रपति होंगे। जिद्दी डोनाल्ड ट्रम्प फिर भी हार मानने को तैयार नहीं थे। चुनाव में धांधली के आरोप लगाकर वे जनता के फैसले को नकारते रहे। हिंसा की धमकी देते रहे।

अमेरिका के कैपिटल हिल बिल्डिंग में ट्रंप समर्थकों के बवाल के कारण संसद में जारी इलेक्‍टोरल की प्रक्रिया बाधित हुई थी। इस हंगामे के बाद से ट्रंप की दुनियाभर में निंदा हो रही है और उन्हें राष्‍ट्रपति पद से तुरंत हटाए जाने की मांग हो रही है। जो बाइडन ने इस हंगामे को राजद्रोह करार दिया है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों द्वारा कैपिटल भवन पर हमला बोलने के बाद अमेरिका की राजधानी में हुई अराजकता को देखते हुए वाशिंगटन डीसी में कर्फ्यू लगा दिया गया है।

हंगामे, हिंसा के बाद बाइडेन की जीत पर लगी मुहर, 20 जनवरी को ट्रंप करेंगे सत्ता हस्तांतरित | trump followers
हंगामे, हिंसा के बाद बाइडेन की जीत पर लगी मुहर, 20 जनवरी को ट्रंप करेंगे सत्ता हस्तांतरित 6

बुधवार देर रात एक बयान में वाशिंगटन डीसी की मेयर मुरील बोसेर ने कहा कि यह कर्फ्यू शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे तक रहेगा। हालांकि यह कर्फ्यू मीडियाकर्मियों समेत जरूरी श्रमिकों पर लागू नहीं होगा। अमेरिकी संसद में हंगामे के बाद अब कांग्रेस ने राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों को स्वीकार कर लिया है।

अब संयुक्त राज्य अमेरिका का राष्ट्रपति बनने के लिए जो बाइडेन का रास्ता साफ हो गया है। अमेरिकी कांग्रेस के संयुक्त सत्र ने कमला हैरिस की जीत भी पुष्‍टि कर दी है। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि वह 20 जनवरी को बाइडेन को सत्ता ट्रांसफर करेंगे।

12 घंटे बाद दोनों सदनों ने लगाई बाइडेन की जीत पर मुहर

करीब 12 घंटे बाद दोनों सदनों ने जो बाइडेन की जीत पर आखिरकार मुहर लगा दी। एरिजोना और पेन्सिलवेनिया में बाइडेन की जीत के खिलाफ ट्रम्प की आपत्तियां खारिज कर दी गईं। इसके बाद ट्रम्प ने भी टकराव के तेवर छोड़ दिए। उन्होंने वादा किया कि 20 जनवरी को ‘व्यवस्थित तरीके से’ सत्ता बाइडेन को सौंप दी जाएगी।

206 साल बाद अमेरिकी संसद में ऐसी हिंसा हुई
यूएस कैपिटल हिस्टोरिकल सोसाइटी के डायरेक्टर सैम्युअल हॉलिडे ने सीएनएन को बताया कि 24 अगस्त 1814 में ब्रिटेन ने अमेरिका पर हमला कर दिया था। अमेरिकी सेना की हार के बाद ब्रिटिश सैनिकों ने यूएस कैपिटल में आग लगा दी थी। तब से अब तक पिछले 206 साल में अमेरिकी संसद पर ऐसा हमला नहीं हुआ था।

और पढ़ें

संबंधित स्टोरीज

Back to top button