स्किन को Healthy और Glowing रखने के लिए अच्छा खान-पान है जरूरी

ग्लोइंग फेस
Page Visited: 2094
3 0
Read Time:3 Minute, 44 Second

कृष्णा आशीष

त्वचा (स्किन) के अनेक विकारों का कारण है पोषण का अभाव। अच्छी खुराक ही स्किन को सेहतमंद बनाती है। साथ ही, स्किन में ग्लो भी लाती है। ब्यूटी पार्लर्स में महंगे ट्रीटमेंट और उत्पाद प्रयोग में लाने के बावजूद भी क्यों उनकी त्वचा की रंगत फीकी ही नजर आती है। इस खोती रंगत को लौटाने में पोषण ही आपकी मदद कर सकता है…

कील-मुंहासों की समस्या

तेल ग्रंथियों की अधिक सक्रियता के कारण कील-मुंहासों की समस्या पैदा होती है। कुछ लोगों को हॉर्मोन्स के इमबैलेंसमेंट और फास्ट फूड, अधिक तेल-मसाले खाने से भी ये समस्या बढ़ती है। अगर आपको भी कील-मुंहासे सताते हैं तो ध्यान दें इन बातों पर।

पानी अधिक मात्रा में पिएं

पानी की पर्याप्त मात्रा से शरीर की गंदगी बाहर निकलती है। इसलिए दिनभर में कम से कम 2-3 लीटर पानी अवश्य पिएं।

नाश्ते के साथ ड्रायफ्रूट्स भी लें

सुबह नाश्ते में 2 अखरोट खाएं। खाने के बाद सौंफ की तरह एक चम्मच भुनी अलसी चबाएं। इसे रोटी के आटे में भी मिला सकते हैं। या एक चम्मच अलसी रात को सोते वक्त दूध में उबालकर पीना भी लाभदायक रहता है।

चीनी का प्रयोग कम करें

एक व्यस्क के लिए दिन में 2 से 3 चम्मच चीनी पर्याप्त होती है। इसके अलावा हफ्ते में एक बार एक मिठाई या थोड़ी-सी आइसक्रीम खा सकते हैं। इससे ज्यादा मीठा प्रयोग में लाने पर तेल ग्रथियां अधिक सक्रिय हो जाती हैं और कील-मुंहासे होने लगते हैं।

मौसमी फल व सब्जियों का सेवन

सेब, संतरा, पपीता, टमाटर, खीरा, नींबू आदि मौसमी फल और सब्जियों का सेवन करने से त्वचा को पोषण मिलता है। दोनों वक्त खाने में सलाद और एक कटोरी हरी सब्जी अवश्य लें। दिन में दो बार कोई भी मौसमी फल खाएं।

स्किन को झुर्रियां पड़ने से ऐसे बचाएं

सही देखभाल ना होने और सूरज की पराबैंगनी किरणों से झुर्रियां पड़ने लगती है। इससे बचने के लिए दूध और उससे बनी चीजें अपने आहार में शामिल करें। नाश्ते में एक कटोरी अंकुरित अनाज खाएं। टमाटर, अन्य लाल फलों और सब्जियों में मौजूद लाइकोपेन त्वचा की चमक बढ़ाता है। ये झुर्रियां कम करने में मदद करता है, इसलिए सलाद में ऐसी लाल सब्जी या फल जरूर लें।

ऐसे मिटाएं स्किन के दाग-धब्बे

  • स्किन के दाग-धब्बे मिटाने के लिए सुबह खाली पेट नींबू पानी पिएं।
  • नाश्ते में एक गिलास छाछ, दूध या एक कटोरी दही लें।
  • विटामिन-सी की पर्याप्त मात्रा वाले खट्टे फल और छिलकेयुक्त अनाज खाएं।
  • दिन मे एक बार ग्रीन टी लें।
  • मूंग, उड़द जैसी छिलके वाली दालों में से एक दाल का सेवन रोज करें।
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement