गहलोत-कांग्रेस को सबक सिखाने के लिए सुप्रीम कोर्ट तक जाएंगेः मायावती

बसपा सुप्रीमो मायावती
Page Visited: 314
2 0
Read Time:3 Minute, 10 Second

आम मत | लखनऊ / जयपुर

राजस्थान का सियासी संग्राम रूकने का नाम नहीं ले रहा है। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के भी इस रार में कूद जाने के बाद मामला और ज्यादा गरमा गया है। इसी कड़ी में बसपा सुप्रीमो मायावती ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर बड़ा आरोप लगाया।

मायावती ने कहा कि राजस्थान में बसपा ने बिना शर्त 6 विधायकों का समर्थन दिया और गहलोत ने असंवैधानिक रूप से उन सभी को कांग्रेस में शामिल करा लिया। ऐसा ही गलत काम उन्होंने पिछली सरकार के समय में भी किया था।

उन्हें (अशोक गहलोत) और कांग्रेस को सबक सिखाने के लिए बसपा ने कोर्ट जाने का फैसला लिया है। हम सुप्रीम कोर्ट तक जाएंगे। इससे पहले, रविवार को बसपा ने सभी 6 विधायकों को व्हिप जारी किया था।

साथ ही, उन्हें विधानसभा सत्र के दौरान किसी भी कार्यवाही में कांग्रेस के खिलाफ वोट करने के लिए कहा गया। ऐसा नहीं करने पर पार्टी से उनकी सदस्यता रद्द करने की भी बात कही थी।

व्हिप जारी करना संविधान की हत्या करने वालों को क्लिन चिटः प्रियंका

दूसरी ओर, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर बसपा पर निशाना साधा। प्रियंका ने ट्वीट किया कि भाजपा के अघोषित प्रवक्ताओं ने भाजपा को मदद की व्हिप जारी की है। यह केवल व्हिप नहीं है, बल्कि लोकतंत्र और संविधान की हत्या करने वालों को क्लिन चिट है।

भाजपा विधायक मदन दिलावर ने हाईकोर्ट में दायर की दूसरी याचिका

इधर, भाजपा विधायक मदन दिलावर ने राजस्थान हाईकोर्ट में बसपा के 6 विधायकों के कांग्रेस में विलय को लेकर दूसरी याचिका दायर की है। इससे पहले सोमवार को हाईकोर्ट ने दिलावर द्वारा पहली याचिका को खारिज कर दिया था।

जस्टिस महेंद्र गोयल ने इसे आधारहीन बताते हुए अलग से दायर करने की अनुमति दी थी। दिलावर ने पहली याचिका में पिछले साल सितंबर में बसपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए सभी 6 विधायकों को अयोग्य घोषित करने की मांग की थी। इस याचिका में स्पीकर, सचिव और 6 विधायकों को पार्टी बनाया गया था।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement