प्रेग्नेंट होने के चांस बढ़ाती है ये Fertility Massage

Fertility Massage
Page Visited: 433
1 0
Read Time:6 Minute, 5 Second

आम मत | नई दिल्ली

Fertility Massage: प्रेग्नेंट होने की कोशिश करना हर महिला के लिए तनावपूर्ण हो सकता है। महिलाएं जल्द से जल्द गर्भधारण करने के लिए कई तरह के इलाज और दवाओं का सहारा लेती हैं, जिसमें काफी खर्चा भी हो जाता है। सोचिए , अगर ऐसा कोई उपाय मिल जाए, जो सस्ता भी हो और कारगार भी, तो कैसा हो। ऐसा एक तरीका है “फर्टिलिटी मसाज” (Fertility Massage) ।

ये आपकी फर्टिलिटी में सुधार करने का सबसे आसान और सस्ता घरेलू उपचार है। फर्टिलिटी मसाज (Fertility Massage) उन महिलाओं के लिए बेहतरीन उपाय है, जो आसानी से गर्भधारण नहीं कर सकतीं। इस मसाज की मदद से उन्हें प्राकृतिक रूप से गर्भधारण करने में आसानी होती है। सेल्फ फर्टिलिटी मसाज के कई फायदे भी हैं।

सबसे अच्छी बात ये है कि महिलाएं घर बैठे इसे आसानी से कर सकती हैं। डॉक्टर्स के अनुसार यह मसाज कम से कम तीन महीने तक करनी चाहिए। तो चलिए इस आर्टिकल में हम आपको बताते हैं फर्टिलिटी मसाज (Fertility Massage) कैसे करते हैं, कब शुरू करते हैं और इसके तमाम फायदों के बारे में भी।

Fertility Massage कब शुरू करें

ये मसाज पीरियड्स के पूरी तरह खत्म होने के बाद शुरू करनी चाहिए। पीरियड की अवधि यदि तीन दिन है, तो चौथे दिन से मसाज शुरू की जा सकती है। ओव्यूलेशन होने के बाद इस मसाज को न करें। कम से कम तीन महीने तक इस मसाज को करते रहें। इसके परिणाम देर से ही सही, लेकिन बेहतर मिलेंगे। इसलिए धैर्य रखें। बता दें, मसाज सुबह के समय खाली पेट करना ज्यादा असरदार होगा।

किन लोगों को करनी चाहिए फर्टिलिटी मसाज

एंडोमेट्रिओसिस से ग्रसित महिलाओं के लिए ये मसाज एक वरदान है। अगर किसी महिला की फैलोपियन ट्यूब में ब्लॉकेज है, तो इस मसाज को करना बेस्ट है। जिन महिलाओं को पीसीओएस है, डॉक्टर्स उन्हें फर्टिलिटी मसाज करने की सलाह देते हैं। Fertility Massage कैसे करें-

पहला राउंड

  • सबसे पहले फर्श पर पीठ के बल लेट जाएं।
  • मसाज के लिए एक कुशन या तकिया लें। इसे अपने घुटने के नीचे दबाकर रखें। इस दौरान पैर एकदम सीधे होने चाहिए।
  • अब मसाज करने के लिए अरंडी यानि कैस्टर ऑयल लें।
  • इस तेल से आपको पेट के निचले यानि बैली बटन के आसपास उंगलियों की मदद से 10-15 मिनट मसाज करें। ध्यान रखें मसाज सकुर्लर मोशन में पांच मिनट तक क्लॉकवाइस करनी होगी।

दूसरा राउंड

Fertility Massage
  • दूसरे राउंड में दाईं तरफ की ओवरी वाले हिस्से की मसाज करना शुरू करें।
  • उंगलियों को पेट पर दबाते हुए अंदर से बाहर की ओर ओवरी की मसाज करें। इसी तरह बाईं ओर की मसाज करें।
  • ऐसा करने से ब्लड फ्लो अच्छा हो जाता है और ओवरी में किसी भी प्रकार के ब्लॉकेज को खुलने में मदद मिलेगी।

तीसरा राउंड

Fertility Massage
  • तीसरे राउंड में यूटरस वाले क्षेत्र में उंगलियों की मदद से दबाव बनाते हुए मसाज करें।
  • यहां दोनों हाथों का इस्तेमाल कर दो सैकंड तक बीचों-बीच उंगलियों से यूटरस पर दबाव बनाना है।
  • अब दाईं ओवरी वाले हिस्से पर उंगलियों से मसाज करें।
  • इसके बाद बाईं ओवरी वाले हिस्से पर इसी तरह मसाज करें। धीरे धीरे इसके आसपास वाले हिस्से में दोनों तरफ कम से कम पांच मिनट तक परफॉर्म करें।
  • अब बीचों-बीच यूटरस पर नीचे से ऊपर की ओर दोनों हाथों से दबाव बनाते हुए मसाज करें। इससे यूटरस में ब्लड का फ्लो अच्छे से होने लगेगा।

चौथा राउंड

Fertility Massage
  • अब दाईं तरफ वाली ओवरी के क्षेत्र को दाएं हाथ की मदद से बाहर से अंदर की तरफ दबाएं। यही प्रक्रिया बाईं ओर करनी है।
  • दोनों तरफ 5 -5 मिनट तक यह प्रक्रिया करें। शुरूआत में आपको दर्द महसूस हो सकता है। आखिरी में पहले स्टेप को एक बार फिर एक से दो मिनट तक दोहराएं।
  • उठने से पहले ध्यान रखें कि सीधे न उठते हुए बाईं तरफ करवट लें और फिर खड़े हों।

Fertility Massage के फायदे

  • हॉर्मोन इंबैलेंस की समस्या को दूर करने में यह मसाज बहुत फायदेमंद है।
  • इस मसाज की मदद से अंडाशय में ताजा ऑक्सीजन युक्त रक्त पहुंचता है। इसके अलावा अंडे के स्वास्थ्य में सुधार होता है।
  • Fertility Massage से तनाव को दूर किया जा सकता है।
  • जिन महिलाओं में यूटरस टेढ़ा या झुका हुआ होता है, जिस वजह से वे कंसीव नहीं कर पातीं, तो सेल्फ फर्टिलिटी मसाज को नियमित रूप से करने पर झुका हुआ यूटरस सही पोजीशन में आ जाता है।
  • इस मसाज को करने से प्रजनन क्षमता बढ़ती है।
  • पीरियड्स से जुड़ी किसी भी समस्या के लिए Fertility Massage बेहद लाभकारी है।
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement