प्रमुख खबरेंक्षेत्रीय खबरें

किसानों ने की प्रेस वार्ता, कहा- नहीं जाएंगे बुराड़ी, वह खुली जेल की तरह

आम मत | नई दिल्ली

कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने कहा कि वे बुराड़ी नहीं जाएंगे। बुराड़ी खुली जेल की तरह है। किसान संगठन भारतीय किसान यूनियन (क्रांतिकारी) पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष सुरजीत सिंह फूल ने कहा कि बातचीत के लिए रखी गई शर्त किसानों का अपमान है। हम बुराड़ी कभी नहीं जाएंगे। बुराड़ी ओपन पार्क नहीं है एक ओपन जेल है।

उन्होंने कहा कि हमें इस बात के साक्ष्य मिले हैं कि बुराड़ी ओपन जेल है। उत्तराखंड किसान संघ के अध्यक्ष से दिल्ली पुलिस ने कहा था कि उन्हें जंतर मंतर ले जाया जाएगा, लेकिन उन्हें बुराड़ी मैदान में ले जाकर बंद कर दिया गया।

सुरजीत सिंह ने कहा कि हम दिल्ली में एंट्री के 5 रास्तों का घेराव करेंगे। हमारे पास 4 महीने का राशन है। हम किसी भी राजनीतिक दल को हमारे मंच पर एंट्री नहीं देंगे। उन्होंने अपील की कि किसान यूनियन के सभी नेताओं से कहना चाहता हूं कि सभी किसान भाईयों से बातचीत करके उन्हें निर्देशित जगह पर आइए।

भारत सरकार बात करेगी। वहां आप लोकतांत्रिक तरीके से प्रदर्शन करिए। इससे किसानों को भी सुविधा रहेगी और सड़क पर आने जाने वाले लोगों को भी सुविधा रहेगी।

और पढ़ें

संबंधित स्टोरीज

Back to top button