अंतराष्ट्रीय खबरें

रिपोर्टः विश्व के 76 प्रतिशत CEO ने माना, वर्ष 2021 में बेहतर होगी Economic Growth

आम मत | नई दिल्ली

Economic Growth: एक सर्वे के अनुसार, व्यापार जगत के 76 फीसदी नेताओं का मानना है कि वर्ष 2021 में बेहतर आर्थिक सुधार होगा। विश्व भर की कंपनियों के सीईओ कोरोना को वैश्विक महमारी घोषित किए जाने के एक साल बाद वैश्विक आर्थिक सुधार के नजरिए से देख रहे हैं। साथ ही, आर्थिक सुधार के एक रिकॉर्ड स्तर तक पहुंचने की भी आशा कर रहे हैं। पीडब्ल्यूसी के 24वें वार्षिक वैश्विक सीईओ की बैठक में ये आंकड़े सामने आए। इस सर्वे में 100 देशों के 5 हजार से अधिक सीईओ को चुना गया था। आर्थिक सुधार पर विश्वास व्यक्त करने का यह आंकड़ा गत दो वर्षों (2019 में 42 और 2020 में 22 प्रतिशत) से काफी ज्यादा है।

पीडब्ल्यूसी नेटवर्क के अध्यक्ष बॉब मोरित्ज के अनुसार, पिछले एक साल के दौरान सीईओ को दो अहम चुनौतियों का सामना करना पड़ा। पहला, ऐसे स्टेकहोल्डरों में विश्वास फिर से कैसे जमाया जाए, जिनकी अपेक्षाएं पहले से और ज्यादा हो चुकी हैं। वहीं, दूसरी चुनौती यह है कि कोरोना के कारण लगातार बदलते परिवेश व्यवसायों को कैसे अनुकूलित किया जाए, जिससे लगातार और बेहतर परिणाम प्राप्त हो सके।

Economic Growth: 36 सीईओ का मानना है अगले एक वर्ष में बढ़ेगी रेवेन्यू ग्रोथ

पीडब्ल्यूसी के सर्वे की मानें तो 36 प्रतिशत सीईओ आगामी एक वर्ष में अपने राजस्व में वृद्धि को लेकर पूरी तरह आश्वस्त हैं। टैक्नोलॉजी सेक्टर के 45 प्रतिशत और टेलीकम्यूनिकेशन सेक्टर 43 फीसदी सीईओ रेवेन्यू ग्रोथ को लेकर पूरी तरह आश्वस्त हैं। वहीं, ट्रांसपोर्टेशन एंड लॉजिस्टिक क्षेत्र के 29 और हॉस्पिटेलिटी सेक्टर के 27 फीसदी सीईओ एक वर्ष में उनके संस्थानों के रेवेन्यू की ग्रोथ बढ़ने को लेकर कम आश्वस्त हैं।

Economic Growth: कनाडा-मैक्सिको में दिलचस्पी दिखा रहे हैं अमेरिकी सीईओ

सर्वे के अनुसार, अमेरिका बाजार में नंबर एक रूप में सामने आया है। वैश्विक सीईओ अगले 12 महीनों में अमेरिका में 35% से अधिक की वृद्धि के साथ पहले पायदान पर देख रहे हैं। वह चीन (28%) से 7 फीसदी अंक आगे रहेगा। वर्ष 2020 में अमेरिका चीन से महज एक प्रतिशत अंक ही आगे था। नए राजनीतिक विकास और मौजूदा तनावों का अमेरिकी सीईओ के विचारों पर प्रभाव पड़ा है। अमेरिकी कंपनियों के सीईओ अब चीन पर कम ध्यान देते हुए कनाडा और मैक्सिको पर ध्यान बढ़ा रहे हैं। 2020 की तुलना में इन दोनों देशों में अमेरिकी सीईओ की दिलचस्पी 78 प्रतिशत बढ़ी है।

Economic Growth के मामले में पांचवें पायदान पर भारत

Economic Growth की सूची में अमेरिका-चीन के बाद जर्मनी 17 फीसदी ग्रोथ के साथ तीसरे स्थान पर है। वहीं, यूनाइटेड किंगडम ने 11 प्रतिशत के साथ भारत को पछाड़ते हुए चौथा स्थान हासिल किया। भारत 8 प्रतिशत ग्रोथ के साथ पांचवें स्थान पर है। वहीं, जापान छठे, ऑस्ट्रेलिया सातवें पायदान पर है।

और पढ़ें

संबंधित स्टोरीज

Back to top button