1 0

केदारनाथ के लिए शुरू हुई हेली सेवा, ई-पास की नहीं होगी अनिवार्यता

आम मत | देहरादून उत्तराखंड स्थित केदारनाथ धाम के लिए शुक्रवार से हेली सर्विस शुरू हो जाएंगी। 8 कंपनियों की ओर से हेली सर्विस उपलब्ध कराई जाएगी। गुप्तकाशी, सोनप्रयाग, मैखंडा,...
0 0

अमेरिकाः राष्ट्रपति ट्रंप की हालत चिंताजनक, अगले 48 घंटे अहम

आम मत | वॉशिंगटन डीसी अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की हालत चिंताजनक हो गई है। अमेरिकन न्यूज चैनल सीएनएन ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि पिछले 24 घंटे...
1 0

आगरा में लालकिला और ताजमहल फिर खुलेंगे, गाइडलाइंस जारी

- ताजमहल में एक दिन में 5 हजार और लालकिला में 2500 लोगों को ही मिल पाएगा प्रवेश- शाहजहां-मुमताज की कब्र को एक बार में 5 पर्यटक ही देख पाएंगे...
1 0

केदारनाथः अगले महीने से शुरू हो सकती है हेली सेवा, चल रहा विचार

आम मत | देहरादून उत्तराखंड स्थित केदारनाथ धाम की यात्रा की चाह रखने वाले लोगों के लिए खुशखबरी है। तीर्थ यात्रियों को अगले महीने से केदारनाथ की हेली सेवा की...
7 0

नई गाइडलाइनः फ्लाइट में मास्क नहीं पहना तो नाम आ जाएगा NO FLY लिस्ट में

लॉकडाउन के कारण दो माह बंद रखने के बाद 25 मई को सरकार ने फिर से शुरू करने की छूट दी थी। हालांकि, फ्लाइट में खाना देने की इजाजत नहीं दी गई थी। वहीं, दूरी के हिसाब से स्पेशल अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट्स में प्री-पैक्ड खाना और स्नैक्स दिए जा रहे थे।

1 0

केंद्र सरकार ने UDAN 4.0 में 78 नए हवाई मार्गों को दी मंजूरी

उत्तर पूर्वी राज्यों में गुवाहाटी से तेजू, रूपसी, तेजपुर, पासीघाट, मीसा और शिलांग के हवाई मार्गों के साथ कनेक्टिविटी को विशेष बढ़ावा दिया जा रहा है। उड़ान 4.0 के लिए मंजूर किए गए इन मार्गों से लोग हिसार से चंडीगढ़, देहरादून और धर्मशाला के लिए उड़ान भर सकेंगे।

7 0

भूमिपूजन के बाद मोदी बोले-राम काज किन्हें बिनु मोहि कहां विश्राम

वर्ष 2019 में जहां जम्मू-कश्मीर से इसी तारीख को अनुच्छेद 370 को बेअसर किया गया था। वहीं, वर्ष 2020 में अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का भूमिपूजन भी इसी तारीख पर किया गया।

7 0

पर्यटकों के लिए 15 जुलाई से खुला मालदीव, होटलों पर लगी पाबंदियां हटीं

मालदीव के पर्यटन मंत्रालय के अनुसार, द्वीप, रिजोर्ट, होटल्स और रेस्टोरेंट पर लगी पाबंदियां हटा दी गई हैं।

13 0

12 ज्योर्तिलिंगों में से एक है केदारनाथ, ऐसे प्रकट हुए थे भगवान शिव

हिमालय के केदार शृंग पर्वत पर स्थित केदारनाथ धाम के इन रहस्यों के बारे में बहुत ही कम लोग जानते हैं, जिन लोगों ने केदारनाथ धाम की यात्रा की है, उनमें से भी बहुत ही कम लोगों को इन रहस्यों के बारे में पता होगा।

9 0

यहां कभी रहते थे शिव-पार्वती, आज कहलाता है बदरीनाथ धाम

आपने चार धामों के बारे में तो जरूर सुना, पढ़ा होगा….इस खबर में हम आपको चार धामों (रामेश्वरम, जगन्नाथपुरी, द्वारिका और बदरीनाथ) में से एक बदरीनाथ धाम के बारे में कुछ रोचक जानकारी उपलब्ध कराएंगे। कुछ ऐसे फैक्ट, जिनके बारे में आपको शायद पता नहीं होगा…