राष्ट्रीय खबरें

फेस्टिव सीजन में वाहनों की बिक्री से पूरे साल की तुलना करना सही नहीं हैः बजाज

आम मत | नई दिल्ली

कोरोना के कारण बिगड़ी अर्थव्यवस्था में अब धीरे-धीरे सुधार होने लगा है। इसे लेकर जीएसटी कलेक्शन ऑटो सेक्टर में बिक्री के आंकड़ों का उदाहरण दिया जा रहा है। इस पर बजाज ऑटो के एमडी राजीव बजाज का बयान वित्त मंत्री व अन्य लोगों से अलग है। अभी फेस्टिव सीजन है और कुछ लोग टू-व्हीलर खरीद रहे हैं। इनमें से कुछ लोग ऐसे होते हैं, जो फेस्टिव सीजन में खरीदारी का इंतजार महीनों से करते हैं। ऐसे में फेस्टिव सीजन के महीने से पूरे साल की तुलना नहीं की जा सकती है, अभी हमें इंतजार करना होगा।

राजीव बजाज ने कहा कि अप्रैल-जून में नाम मात्र वाहनों की बिक्री हुई। खासकर टू-व्हीलर की बिक्री नहीं हुई। अब धीरे-धीरे टू-व्हीलर की मांग बढ़ रही है। अभी के हालात को पिछले साल से तुलना नहीं कर सकते। जुलाई से अगले साल के मार्च के तक आंकड़े को देखना होगा, तब तस्वीर साफ हो पाएगी।

बजाज ऑटो के एमडी की मानें तो कोरोना की वजह टू-व्हीलर इंडस्ट्रीज पर गहरा असर पड़ा है, उस हिसाब से सरकारी मदद नहीं मिल पाई। उन्होंने कहा कि इस महामारी की चपेट में पूरी दुनिया आई है। कई देशों में कोरोना संकट के दौरान इंडस्ट्रीज को सरकार का सपोर्ट मिला, हमारे यहां ऐसा कुछ नहीं हुआ। बड़े पैमाने पर नौकरियां गईं और हालात सामान्य में अभी भी वक्त लगेगा।

और पढ़ें

संबंधित स्टोरीज

Back to top button