लोंगेवाला में गरजे मोदी, बोले- किसी ने आजमाया तो जवाब प्रचंड मिलेगा

Page Visited: 159
0 0
Read Time:4 Minute, 9 Second

– जैसलमेर बॉर्डर पर प्रधानमंत्री ने जवानों संग मनाई दिवाली

आम मत | जयपुर / जैसलमेर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दीवाली मनाने के लिए शनिवार को राजस्थान के जैसलमेर बॉर्डर स्थित लोंगेवाला पोस्ट पर पहुंचे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लगातार 7वीं बार जवानों के साथ दिवाली मनाई। इस अवसर पर उन्होंने जवानों को संबोधित किया।

पीएम ने कहा कि आप हैं तो देश है. देश के ये त्यौहार हैं. पीएम ने कहा कि मैं आपके बीच प्रत्येक भारतवासी की शुभकामनाएं लेकर आया हूं। देशवासियों का प्यार लेकर आया हूं। हर वरिष्ठ जन का आशीष लेकर आया हूं। उन्होंने चीन और पाकिस्तान को चेतावनी दी कि किसी ने आजमाने की कोशिश की तो प्रचंड जवाब मिलेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारा लक्ष्य है- सरहद पर शांति। रणनीति साफ है- आज का भारत समझने और समझाने की रणनीति पर भरोसा करता है। लेकिन, अगर हमें आजमाने की कोशिश की तो जवाब भी उतना ही प्रचंड मिलेगा।

देश की अखंडता देशवासियों की एकता पर निर्भर करती है। सेना का हौसला और आत्मबल ऊंचा रहे इसलिए यही हमारी प्राथमिकता है। हमने सैनिकों के परिवारों और बच्चों की शिक्षा पर अहम फैसले किए। दूसरे कार्यकाल में पहला फैसला मैंने यही लिया था। राष्ट्रीय शौर्य स्मारक देश को प्रेरणा देता है।

सैन्य कुशलता के इतिहास में बैटल ऑफ लोंगेवाला को किया जाएगा याद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगर देश की किसी पोस्ट का नाम अगर किसी को याद है तो वो लोंगेवाला पोस्ट है। यहां गर्मियों में तापमान 50 डिग्री को छूता है और सर्दियों मे शून्य के नीचे चला जाता है। इस पोस्ट पर आपके साथियों ने शौर्य की ऐसी गाथा लिख दी है जो लोगों को याद है। जब भी सैन्य कुशलता के इतिहास के बारे में लिखा पढ़ा जाएगा तब बैटल ऑफ लोंगेवाला को याद किया जाएगा।

ये वो समय था पाकिस्तान की सेना बांग्लादेश की जनता पर जुल्म कर रही था। इन हरकतों से पाकिस्तान का घृणित चेहरा उजागर हो रहा था। इन सबसे दुनिया का ध्यान हटाने के लिए पाकिस्तान ने हमारे देश की पश्चिमी सीमा पर मोर्चा खोल दिया। उनको लगता था कि ऐसा करके बांग्लादेश के पाप छिपा लेंगे, लेकिन पाकिस्तान को लेने के देने पड़ गए। इस पोस्ट पर पराक्रम की गूंज ने दुश्मन का हौसला पस्त कर दिया। मेजर कुलदीप सिंह चांदपुर की नेतृत्व में दुश्मन को धूल चटा दिया।

जवानों से 3 आग्रह

1. कुछ न कुछ नया इनोवेट करें। इसे जिंदगी का हिस्सा बनाइए। जवानों की क्रिएटिविटी देश के लिए कुछ नया ला सकती है। यह आप लोगों के लिए जरूरी है।
2. योग को अपने जीवन का हिस्सा बनाए रखिए।
3. हम सभी मातृभाषा बोलते हैं। कोई हिंदी तो कोई अंग्रेजी बोलते हैं। अपने साथी से भारत की कोई एक भाषा जरूर सीखिए। यह आपकी ताकत बन जाएगी।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *