बलिया हत्याकांडः 5 पुलिसकर्मी सस्पेंड, विधायक बोले-आरोपी ने आत्मरक्षा में की फायरिंग

Page Visited: 157
1 0
Read Time:2 Minute, 7 Second

आम मत | बलिया

उत्तर प्रदेश के लिए रेवती थाना के दुर्जनपुर गांव में कोटे की दुकान को लेकर हुए हत्याकांड में पुलिस अधीक्षक (एसपी) देवेंद्र नाथ ने शुक्रवार को बड़ी कार्रवाई की। एसपी नाथ ने मामले में सब इंस्पेक्टर सदानंद यादव, श्रीकांत पांडे और कमला नंद सिंह और 5 सिपाहियों को निलंबित कर दिया।

दूसरी ओर, मामले पर बलिया विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा कि धीरेंद्र सिंह अगर आत्मरक्षा में गोली नहीं चलाया होता, तो कम से कम उसके परिवार के दर्जनों लोग मार दिए गए होते. जिस तरह से प्रशासन अपनी कार्रवाई कर रहा है, मैं आग्रह करूंगा कि दूसरे पक्ष की बात भी करें’। बलिया विधायक ने कहा, ‘अगर आरोपी ने गोली चलाई तो वो आत्मरक्षा में चलाई है, ये अपराध हो सकता है लेकिन आत्मरक्षा के लिए ही लाइसेंस मिलती है। उनके सामने मरने और मारने के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं था।’

उल्लेखनीय है कि 15 अक्टूबर को दुर्जनपुर गांव में कोटे की दुकान के आवंटन को लेकर एसडीएम व सीओ की मौजूदगी में हुई खुली बैठक के बाद बवाल हो गया। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की 10 टीमें बनाई है।

इसमें एसओजी को मुख्य आरोपित को गिरफ्तार करने का लक्ष्य दिया गया। यह टीमें जनपद समेत गैर प्रांत के संभावित ठिकाने पर छापेमारी तेज कर दी। पुलिस का प्रयास है कि मुख्य आरोपित धीरेंद्र प्रताप सिंह को किसी तरह से गिरफ्तार कर लिया जाए।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *